Free Horoscope, Indian Astrology ( ज्योतिष), Vastu,Read Palmistry (हस्तरेखा)

Sunday, 18 June 2017

फेंगशुई के कुछ उपाय

फेंगशुई के कुछ  उपाय



दोस्तों फेंगशुई का यथार्थ मतलब है वायु तथा जल और फेंगशुई के बारे में बहुत खुशी ज्ञान रखते होंगे दोस्तों परंतु फेंगशुई से हमें क्या क्या लाभ हो सकते हैं और उसके क्या उपाय करने से हमें क्या लाभ हो सकते हैं उसके बारे में मैं मेरे इस पोस्ट में बताना चाहूंगा इसके क्या लाभ हो सकते हैं इसकी जानकारी कम ही लोगों को होगी इसके लिए मैं इस पोस्ट में आप लोगों को यह उपाय बताने जा रहा हूं इन छोटे-छोटे उपायों को करने से आप अपने घर के वास्तु को सही कर सकते हैं वास्तु को अनुकूल कर सकते हैं तथा आर्थिक व मानसिक सुख का लाभ ले सकते हैं



1. फेंगशुई में सर्वप्रथम यह ध्यान दिया जाता है कि आप जिस मकान में निवास कर रहे हैं उस मकान की किस प्रकार की बाधाएं हैं जिसके को प्रभाव से आप लोगों को कष्ट प्राप्त हो रहा है उसको प्रभाव को दूर करने के लिए फेंगशुई के उपाय किए जाते हैं आपके घर में प्रवेश करने वाली "ची "को उसकी सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ाया जाता है उसमें बाधा डालने वाले दोषों को दूर किया जाता है
वह बाद में निम्न हो सकती है

(1) आपके घर के मुख्य द्वार के सामने कोई पेड़ होना
(2) क्या खंबा होना
(3) या किसी मकान का होना होना
(4) किसी ऊंची बिल्डिंग की छाया आपके घर के मुख्य द्वार पर पडना
(5) घर के मुख्य द्वार के सामने गंदे पानी का जमाव अथवा गंदगी का ढेर होना
मुख्य द्वार के सामने इस प्रकार की कोई भी वादा नहीं होनी चाहिए यह बताएं फेंगशुई के अनुसार बहुत बड़ा दोस्त मानी गई है फेंगशुई की भाषा में इसे द्वार वेद भी कहा गया है
इसके निवारण के लिए घर के मुख्य द्वार पर पाकुआ ग्लास लगाएं जिससे आपके घर में प्रवेश होने वाली नकारात्मक उर्जा दूर हो नकारात्मक ऊर्जा सकारात्मक ऊर्जा में परिवर्तित हो इस ग्लास के प्रभाव से नकारात्मक ऊर्जा इस ग्लास पर पढ़ कर वापस हो जाएगी


2. आप के मुख्य द्वार के ऊपर यथा संभव हो सके काले एवं लाल रंग का उपयोग नहीं करें काला रंग दुखा और लाल रंग क्रोध का सूचित होता है इसलिए आप अपने मुख्य द्वार के ऊपर इन दोनों ही रंगों का उपयोग नहीं करें अपने मुख्य द्वार के ऊपर सफेद पीला रंग लगवाएं सफेद शांति का प्रतीक माना गया है तथा पीले रंग को धन का प्रतीक माना गया है


3. घर में लंबा गलियारा नहीं होना चाहिए इससे घर में नकारात्मक उर्जा का प्रवेश होता है इसे नकारात्मक उर्जा के प्रभाव से बचने के लिए गलियारे के अंत में एक दर्पण स्थापित करना चाहिए

4. घर के मुख्य द्वार के सामने खंभा या पेड़ नहीं होना चाहिए यदि आप के मुख्य द्वार के सामने खंभा या पेड़ है तो मुख्य द्वार पर दर्पण लगा देना चाहिए और उस पेड़ अथवा खंबे पर प्राकृतिक बेल लपेट देनी चाहिए जिससे आपके घर में नकारात्मक उर्जा का प्रवेश नहीं हो

5. मुख्य द्वार की चौखट पर काले घोड़े की नाल लगा देनी चाहिए यह आपके घर का द्वार वायव्य और पश्चिम दिशा में ना हो यदि आपके घर का द्वार वायव्य पश्चिम दिशा में है तो चौखट पर काले घोड़े की नाल नहीं लगानी चाहिए


6. घर के मुख्य द्वार पर नवदुर्गा यंत्र अथवा श्री गणेश जी की तस्वीर अवश्य ही लगानी चाहिए गणेश जी की तस्वीर जिस प्रकार बाहर की ओर लगाइए उसी प्रकार अंदर की ओर भी लगानी चाहिए क्योंकि श्री गणेश जी के नेत्रों में समृद्धि का वास होता है तथा पीठ में दरिद्रता का वास होता है इसीलिए  उस स्थान में श्री गणेश जी की तस्वीर लगानी चाहिए


7. आपके घर का मुख्य द्वार आपके घर के पिछले द्वार से बड़ा होना चाहिए तथा दोनों ही एक सीध में नहीं होने चाहिए अन्यथा जी अर्थात सकारात्मक ऊर्जा मुख्य द्वार में प्रवेश करती हुई पिछले द्वार से बाहर निकल जाएगी


8. आपके घर में जितने भी दरवाजे हूं वह सभी दरवाजे अंदर की तरफ ही खुलने चाहिए तथा दरवाजा खोलते तथा बंद करते समय किसी भी प्रकार की कर्कश आवाज नहीं आनी चाहिए यह आवाज फेंगशुई में बहुत ही शुभ मानी गई है




:यदि आप लोगों को फेंगशुई के बारे में मेरा यह लेख अच्छा लगा तो कमेंट कीजिए तथा ज्योतिष शास्त्र से संबंधित अन्य भी आपके प्रश्न मुझे आप मेरे हिस्से में ब्लॉक पर पहुंच सकते हैं तथा मेरे YouTube चैनल एस्ट्रो गार्डन पर भी ज्योतिष तथा हस्तरेखा आदि के वीडियोस देख सकते हैं
Share:

0 comments:

Post a Comment

TRANSLATE

Followers

Facebook

YouTube

Astrogarden. Powered by Blogger.

Contact Form

Name

Email *

Message *

Follow by Email

Blog Archive

Search This Blog

Archive